RBI के एक्शन से RBL Bank Share में 9% की गिरावट, जानिए क्या होगा ग्राहकों का?

By Hindi Leaks

Updated on:

rbl bank share

RBL Bank Share News आरबीएल बैंक के शेयर का मूल्य तेजी से गिर गया है। भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) के फैसले के बाद शेयर में ये गिरावट आई है। आपको बता दें कि, कमर्शियल बैंकों के कंज्यूमर क्रेडिट एक्सपोजर के कारण रिजर्व बैंक ने रिस्क वेटेज को बढ़ा दिया है। ये सुधार नए और पुराने लोन दोनों पर लागू होंगे। बैंक ने कहा कि पर्सनल लोन नियम के दायरे में आते हैं, लेकिन होम लोन, एजुकेशन लोन, व्हीकल लोन और गोल्ड लोन नहीं। नियमों के तहत कंज्यूमर लोन का रिस्क वेटेज 25 प्रतिशत से 125 प्रतिशत कर दिया गया है। यानी अब बैंकों को कंज्यूमर लोन के बदले बफर के रूप में अधिक राशि रखनी होगी।

RBL Bank Share में इतनी बड़ी गिरावट क्यों?

CNBC की रिसर्च टीम ने कुछ डेटा तैयार किया है। इसके बाद RBL बैंक के पोर्टफोलियो में 24.3% अनसिक्योर्ड था। RBL Bank Share शेयर की तीव्र गिरावट खबर के बाद शेयर काफी गिर गया है। गुरुवार को शेयर 254 रुपये पर बंद हुआ। वहीं, शेयर शुक्रवार की सुबह 239 रुपये पर खुला। दिन में ये 230 रुपये पर आ गया। एक महीने में शेयर चार प्रतिशत गिर गया है। एक साल में शेयर ने ६० प्रतिशत का रिटर्न दिया है।

कंज्यूमर पर RBI के निर्णय का प्रभाव-कंज्यूमर लोन सस्ता हो सकता है। पुराने और नए लोन दोनों बढ़ने का खतरा है।कंज्यूमर लोन देने के लिए अधिक अध्ययन करना होगा।NBFCs को धन जुटाना महंगा है
RBL Bank ने रिस्क वेटेज क्यों बढ़ाया? अनसिक्योर्ड लोन जमकर बाँटे गए।अनसिक्योर्ड लोन ग्रोथ 23 से 30 प्रतिशत तक हो गई।अनसिक्योर्ड लोन का कुल मूल्य लगभग 50 लाख करोड़ रुपये है। वहीं, प्रति महीने 1.5 लाख करोड़ रुपये क्रेडिट कार्ड पर खर्च होते हैं।